Type 2 Diabetes Symptoms Causes and Treatment | टाइप 2 डायबिटीज

Type 2 Diabetes Symptoms Causes and Treatment in Hindi

Type 2 Diabetes Symptoms Causes and Treatment in Hindi (टाइप 2 मधुमेह के कारण, लक्षण, तथा बचाव) – डायबिटीज के दो प्रकार होते है टाइप 1 और टाइप 2 डायबिटीज. Type 1 Diabetes में इंसुलिन बनना कम या फिर बंद हो जाता है. और इसको काफी हद तक नियंत्रित भी किया जा सकता है.

लेकिन जिन लोगो को Type 2 Diabetes की शिकायत है उन लोगो का Blood Sugar Level काफी ज्यादा बढ़ जाता है. जिसको Control करना काफी ज्यादा मुश्किल है.

दुनिया में करोडो लोग मधुमेह रोग से ग्रसित है, जिनमे से ज्यादातर लोग टाइप 2 डायबिटीज के शिकार है. शुरुआत में कई बार टाइप 2 डायबिटीज के लक्षण दिखाई ही नही देते है, लेकिन बाद में इस बीमारी के बढ़ जाने के कारण मरीज को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है.

इस लेख के जरिये हम आपको बताने वाले है टाइप 2 डायबिटीज के कारण, लक्षण तथा इससे बचाव के उपाय. Type 2 Diabetes in Hindi

Type 2 Diabetes Symptoms Causes and Treatment in Hindi

यह भी पढ़ें : इन लक्षणों के दिखने पर जरूर कराए डायबिटीज की जांच

टाइप 2 डायबिटीज के लक्षण | Type 2 Diabetes Symptoms in Hindi

Type 2 Diabetes Ke Lakshan टाइप 2 डायबिटीज के अनेक लक्षण है जैसे

बार-बार पेशाब आना – जिन लोगो को टाइप 2 डायबिटीज की शिकायत है उन लोगो को बार-बार पेशाब आने की समस्या होती है.

प्यास ज्यादा लगना – टाइप 2 डायबिटीज के मरीज को प्यास काफी ज्यादा लगती है, बार-बार पेशाब जाने के कारण भी मरीज को ज्यादा प्यास लगती है.

थकान – डायबिटीज टाइप 2 के मरीज को बिना किसी वजह के थकान महसूस होती है.

यह भी पढ़ें : कमजोरी दूर करने के नुस्खे

भूखा महसूस करना – खाने के बाद भी भूखा महसूस करना.

वजन घटना – अचानक से वजन का घट जाना या फिर बढ़ जाना.

यह भी पढ़ें : मोटापा कम करने के उपाय

घाव भरने में ज्यादा समय लगना – टाइप 2 डायबिटीज के मरीज को यदि चोट लग जाये तो घाव भरने में काफी समय लगता है.

कांपना – हाथ-पैर कांपना या सुन्नता महसूस करना.

अन्य लक्षण – धुंधला दिखाई देना, मुंह का सूखना, रात के समय कई बार पेशाब आना.

यह भी पढ़ें : जानिए कीटो डाइट के फायदे और नुकसान

टाइप 2 डायबिटीज के कारण | Cause of Type 2 Diabetes in Hindi

आनुवांशिक कारण – टाइप 2 डायबिटीज आनुवांशिक कारण से भी हो सकती है. अगर आप के परिवार में किसी को डायबिटीज है तो आपको भी इसके होने का खतरा है.

ज्यादा वजन – ज्यादा वजन होने के कारण भी इसका खतरा बना रहता है. अगर आपका वजन सामान्य वजन से ज्यादा है तो आपको अपना वजन कम करने की जरुरत है.

दवाओं का सेवन – ज्यादा एलोपैथी दवाओं का सेवन करने के कारण.

ब्लड प्रेशर – उच्च रक्तचाप (High Blood Pressure) के कारण भी टाइप 2 डायबिटीज का खतरा रहता है.

यह भी पढ़ें : हाई ब्लड प्रेशर का इलाज के घरेलू नुस्खे

गलत खानपान – सही खान-पान न होने के कारण भी टाइप 2 डायबिटीज की शिकायत हो सकती है. गलत खान पान के अनेक बीमारियां शरीर में घुस जाती है. ऐसे में आपको स्वस्थ आहार को अपनी दिनचर्या का हिस्सा बनानां जरुरी है.

यह भी पढ़ें : स्वस्थ रहने के लिए करें इन हेल्दी फूड का सेवन

प्रेगनेंसी में दवा का सेवन – प्रेगनेंसी के समय ज्यादा दवाओं के सेवन के कारण बच्चे को डायबिटीज का खतरा हो सकता है.

यह भी पढ़ें : जानिए कैसे प्रेग्नेंट होती है महिलाएं

अन्य कारण – शराब तथा धूम्रपान करने के कारण, तनाव के कारण, शारीरिक श्रम की कमी होने के कारण.

टाइप 2 डायबिटीज से बचाव | Prevention of Type 2 Diabetes in Hindi

Type 2 Diabetes Ka Ilaj डायबिटीज से बचाव के लिए इंसुलिन दिया जाता है. Insulin एक तरह का Hormone है जो हमारे शरीर के लिए बहुत जरुरी है. इंसुलिन रक्त कोशिकाओं को शुगर प्रदान करता है. इंसुलिन शरीर के बाकी हिस्सों में शुगर पहुंचाने का काम करता है. इन्सुलिन के द्वारा पहुंचाई गई शुगर से कोशिकाओं को ऊर्जा मिलती है.

गलत तरह के खान-पान में परहेज करे.

पूरी नींद ले.

तनाव से बचें, ज्यादा तनाव डायबिटीज के मरीजों के लिए सही नहीं होता.

शराब और धूम्रपान का सेवन न करे.

ताज़े फलों का सेवन करें.

चीनी के द्वारा बनाई गयी चीजे खाना बंद कर दे.

ज्यादा फैट वाली चीजें न खाएं, कम कैलोरी और कम चर्बी वाला खाना खाएं.

अब आपको टाइप 2 डायबिटीज (मधुमेह) के कारण, लक्षण तथा इससे बचाव के उपाय (Type 2 Diabetes Symptoms Causes and Treatment in Hindi) के बारे में जानकारी हासिल हो गई होगी. उम्मीद है आपको ये जानकारी पसंद आई होगी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*