Symptoms of Skin Cancer in Hindi | स्किन कैंसर के लक्षण और बचाव

Symptoms of Skin Cancer in Hindi

Symptoms of Skin Cancer in Hindi (स्किन कैंसर के लक्षण तथा बचाव) – अगर आपको अपने स्किन के ऊपर किसी भी तरह का कोई चेंज दिखाई दे रहा है लेकिन कुछ दिनों में वो ठीक हो जा रहा है तो घबराने की जरुरत नही है. लेकिन अगर आपकी स्किन पर चेंज आ रहे है और वो ठीक नही हो रहे है तो ये Skin Cancer के लक्षण हो सकते है.

अगर आपके बर्थ मार्क में बदलाव नजर आ रहा है या फिर आपके तिल का आकार बढ़ रहा है या फिर आपके बॉडी में रेशेस पड़ गये है जोकि ठीक नहीं हो रहे है तो ये स्किन कैंसर हो सकता है.

आज हम आपको इस लेख के जरिये त्वचा कैंसर के प्रकार, कारण, लक्षण तथा बचाव के बारे में बताएंगे. Types of Skin Cancer in Hindi, Causes of Skin Cancer in Hindi, Symptoms of Skin Cancer in Hindi, Skin Cancer Se Bachne Ke Upay

Symptoms of Skin Cancer in Hindi

स्किन कैंसर के प्रकार | Types of Skin Cancer in Hindi

स्किन कैंसर तीन प्रकार के होते है

बेसल सेल कार्सिनोमा (Basal Cell Carcinoma in Hindi) – इस कैंसर में त्वचा के नीचे की परत की कोशिकाएं प्रभावित होती है. इस कैंसर के होने का खतरा बॉडी के उस हिस्से को सबसे अधिक होता है जो हिस्सा धूप में ज्यादा देर तक खुला रहता है. ये शरीर के बाकि हिस्सों में सामान्यता नहीं फैलता.

स्क्वैमस सेल कार्सिनोमा (Squamous Cell Carcinoma in Hindi) – ये कैंसर त्वचा के ऊपरी परत की कोशिकाओं के प्रभावित होने से होता है. ये कैंसर शरीर के बाकी हिस्सों में भी फैल सकता है.

मेलेनोमा (Melanoma in Hindi) – ये बहुत ही खतरनाक कैंसर है इससे त्वचा को रंग देने वाली कोशिकाएं प्रभावित होती है. और ये बहुत तेजी से फैलता है. इसके होने पर त्वचा बहुत ही बुरी दिखने लगती है. इसका तुरंत इलाज करवाना बहुत जरूरी है.

यह भी पढ़ें : मेलानोमा स्किन कैंसर का इलाज

स्किन कैंसर होने के कारण | Causes of Skin Cancer in Hindi

गोरी त्वचा होना.
ज्यादा देर तक धूप में रहना.
पहले कभी स्किन बर्न होना.
प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर होने.

स्किन कैंसर के लक्षण | Skin Cancer Ke Lakshan

जलन और खुजली का होना – धूप में जाते समय त्वचा पर जलन और खुजली का होना है.

एक्जिमा – बार-बार एक्जिमा (खुजली) होना और धीरे-धीरे करके फैलते जाना भी स्किन कैंसर का लक्षण हो सकता है. खासतौर पर अगर ये घुटनों, हथेली और कोहनी पर हो तो इसे नजरअंदाज न करे.

यह भी पढ़ें : स्तन कैंसर के लक्षण कारण और बचाव

धब्बे – स्किन पर एक महीने से ज्यादा समय तक धब्बे हो, और वो ठीक न हो रहे हो तो ये भी स्किन कैंसर का लक्षण हो सकता है.

जलन या लाली – गाल, गर्दन, आँखों के पास या फिर माथे की त्वचा पर जलन या लाली आना.

तिल का आकार बढ़ना या रंग बदलना – तिल में किसी भी तरह का बदलाव दिखाई दे जैसे तिल का आकार बढ़ना या रंग बदलना या फिर उसके आस-पास की त्वचा में किसी तरह का बदलाव दिखे तो बिना समय व्यर्थ किये डॉक्टर से सलाह ले.

बर्थ मार्क का आकार बढ़ना – अगर आपके शरीर में बचपन से बर्थ मार्क है तो घबराने की जरुरत नही है लेकिन अगर इसमें आपको कोई बदलाव नजर आता है जैसे – बर्थ मार्क का आकार बढ़ना या फिर खुजलाने पर खून आना ये त्वचा कैंसर के लक्षण हो सकते है.

पिम्पल्स का आकार बढ़ना – चेहरे के पिंपल का आकार बढ़ते जाना और उसका रंग बदलना भी स्किन कैंसर का लक्षण हो सकता है.

यह भी पढ़ें : प्रोस्टेट कैंसर के कारण, लक्षण और बचाव

स्किन कैंसर से बचाव | Skin Cancer Se Bachne Ke Upay

शरीर को पूरा ढक कर रखे – सूरज की हानिकारक किरणों से बचने के लिए अपने शरीर को पूरा ढक कर रखे. ज्यादा समय सूरज के संपर्क में रहना स्किन कैंसर को बढ़ावा देता है.

सनस्क्रीम का प्रयोग करे – धूप में बाहर निकलते समय सनस्क्रीम का प्रयोग करे. सनस्क्रीम सूरज की किरणों से काफी हद तक सुरक्षा प्रदान करती है. इसीलिए बाहर जाते समय सनस्क्रीन का इस्तेमाल जरूर करें.

डॉक्टर को दिखाए – त्वचा से सम्बंधित कोई भी रोग एक हफ्ते के अंदर ठीक न हो तो डॉक्टर को दिखाए. इसके अलावा शीशे की मदद से अपने तील, बर्थ मार्क और मस्से की जांच करीब से करे.

पानी पिए – स्किन को Hydrate रखने के लिए पर्याप्त पानी पिए.

पूरे कपड़े पहने – ऐसे कपडे पहने जो आपको धूप से बचाए रखे.

Symptoms of Skin Cancer in Hindi ये थे स्किन कैंसर के कारण, लक्षण तथा बचने के उपाय. यदि आपको अपनी स्किन के ऊपर ऐसे कोई लक्षण दिखाई दे जो स्किन कैंसर के हो तो बिना देरी किये डॉक्टर से संपर्क जरूर करे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*