Sore Throat in Hindi | गले का दर्द दूर करने के 7 घरेलू नुस्खे

Sore Throat in Hindi, Home Remedies for Throat Pain in Hindi, Gale Me Dard

Sore Throat in Hindi (गले के दर्द का इलाज) – कई बार हमारे गले में दर्द होने लगता है जिसके कारण हम परेशान हो जाते है. गले में दर्द होना या गला खराब होना सामान्य बात है. गले में दर्द कई कारणों की वजह से हो सकता है जैसे – सर्दी-जुकाम, खासी, इन्फेक्शन आदि. इसके अलावा कई बार हमारा गला छील जाता है, उसकी वजह से भी हमें गले में दर्द की शिकायत हो सकती है.

अगर आपके गले में भी दर्द है और आप गले के दर्द की समस्या के कारण परेशान है तो घबराने की जरुरत नही है, हम आपको कुछ घरेलू नुस्खे बताने वाले है जिनकी मदद से आपको गले दर्द से राहत मिलेगी. Gale Me Dard Ke Upay in Hindi

Sore Throat in Hindi, Home Remedies for Throat Pain in Hindi, Gale Me Dard

गले में दर्द के प्रकार | Types of Sore Throat in Hindi

टॉन्सिलाइटिस – ये हमारे मुह के पीछे के 2 नरम ऊतक होते है. इसमें गले के टॉन्सिल्स में रेडनेस तथा सूजन आ जाती है.

लैरिंजाइटिस – इसमें गले की कंठी नली में सूजन तथा रेडनेस आ जाती है.

फेरिंजाइटिस – यह मुंह के पीछे वाले गले के हिस्से को प्रभावित करता है.

गले में दर्द के लक्षण | Symptoms of Throat Pain in Hindi

गले में दर्द होना
गले का सूखना
जब भी आप किसी चीज को खाते है तो उसे निगलते हुए दर्द होना
टॉन्सिल में रेडनेस और सूजन
गले में खराश होना

सामान्य इन्फेक्शन जिनके कारण गले में दर्द होता है | Infection Causes Sore Throat in Hindi

Gale Me Dard Kyu Hota Hai छींके आना, उलटी होना, ठण्ड लगना, बुखार होना, नाक बहना आदि. इन सब के कारण भी गले में दर्द की समस्या हो सकती है.

गले में दर्द से बचाव कैसे करे | Prevention Sore Throat Pain in Hindi

कुछ बातों का पालन करके आप काफी हद तक गले के दर्द की समस्या से अपने आपको बचा सकते है. नीचे हमने कुछ बातें बताई है जो गले में दर्द से बचाव करने में फायदेमंद है.

खांसना और छींकना – जब भी आपको खांसी या छींक आती है तब अपने मुंह पर रुमाल रखकर खासे. साथ ही साथ जब भी आप टॉयलेट से आये तो अपने हाथों को अच्छे से धोए, इसके अलावा खाना खाने से पहले हाथ जरूर धोएं.

यह भी पढ़ें : जौ के फायदे, स्वास्थ्य लाभ और नुकसान

हैंड सेनिटाइजर का इस्तेमाल करें – यदि आपके पास हाथ धोने के लिए साबुन मौजूद नहीं है तो आप हैंड सेनीटाइजर का इस्तेमाल करे. इसके अलावा जब भी बाहर जाये तब सार्वजनिक इस्तेमाल की जानी वाली चीजों से अपने मुंह को स्पर्श होने से बचाये. जैसे – पानी का नल, टेलीफोन आदि.

यह भी पढ़ें : अलसी के बीज खाने के फायदे और नुकसान

ठोस खाद्य पदार्थ के सेवन से बचे – कई बार हम कुछ ठोस पदार्थ का सेवन करते है जैसे – बिस्कुट, कच्ची सब्जी, अखरोट आदि. इनके किनारे नुकीले होते है जिनके कारण गला छील सकता है. इन खाद्य पदार्थों से गले में और ज्यादा बेचैनी हो सकती है.

यह भी पढ़ें : अखरोट के फायदे उपयोग और नुकसान

खट्टे फल न खाए – कई लोगो को संतरे का जूस पीना काफी पसंद होता है, लेकिन अगर आपको जुकाम है तो संतरे का जुइ पीना आपको नुकसान पंहुचा सकता है. संतरे का जूस पीने से आपके गले में दर्द और भी ज्यादा बढ़ सकता है. इसीलिए जब जुकान हो तो खट्टे फलों तथा उनके रस का सेवन नहीं करना चाहिए.

नमक के पानी से गरारा – गले में दर्द की समस्या होने पर गरारे करना एक अच्छा उपाय है. जब भी आपको गले में दर्द की शिकायत हो तब गुनगुने पानी में थोड़ा सा नमक मिलाएं और गरारे करे. ऐसा करने से आपको गले में आई सूजन तथा गले की खराश से राहत मिलेगी.

गले के दर्द से राहत पाने के घरेलू नुस्खे | Home Remedies for Throat Pain in Hindi

नीचे बताए गए घरेलू नुस्खों की मदद से आपको गले के दर्द से राहत मिल सकती है.

गले के दर्द से राहत पाने के लिए हल्दी | Turmeric Gale Me Dard Ke Gharelu Nuskhe in Hindi

आधा कप गुनगुने पानी में एक चौथाई चम्मच हल्दी पाउडर तथा आधा चम्मच नमक डालें और सुबह गरारे करे. गरारा करने के कुछ समय बाद तक किसी और चीज का सेवन न करे.

यह भी पढ़ें : मखाने के फायदे और नुकसान

गले का दर्द दूर करने के लिए मुलेठी | Muleti Gale Me Dard Ke Upay in Hindi

बोलते समय अगर आपके गले में दर्द होता है तो मुलेठी चबाना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है. स्वाद में कड़वी होने की वजह से शायद आपको मुलेठी पसंद न आये लेकिन फिर भी आप इसे फेंके नहीं. दिन में 2-3 बार मुलेठी चबाये तथा उसका रस चूस ले. इससे गले के दर्द में आराम मिलेगा.

गले में राहत के लिए भाप ले | Steam Gale Ka Dard Dur Karne Ka Tarika in Hindi

गले में सूजन आने पर या फिर खराश होने पर भाप लेना फायदेमंद है. भाप लेने से गले में राहत मिलेगी.

अदरक गले के दर्द का इलाज | Gale Ke Dard Ka Ilaj Ginger in Hindi

अदरक एक आयुर्वेदिक औषधि है. इसमें कई प्रकार के पोषक तत्व मौजूद होते है जैसे – कैल्शियम, आयोडीन, आयरन आदि. अदरक खाने से मुंह के हानिकारक बैक्टीरिया नष्ट हो जाते हैं. गले में दर्द होने पर अदरक खाना फायदेमद है. इसके लिए अदरक को पानी में उबालकर पिएं या फिर आप चाहे तो इसके टुकड़े को चूस भी सकते है.

यह भी पढ़ें : अदरक के 8 फायदे

शहद गले का दर्द दूर करने का नुस्खा | Honey Gale Me Dard Ka Gharelu Upchar in Hindi

शहद को मधु भी कहते है और इसका इस्तेमाल सालों से औषधि के रूप में किया जा रहा है. शहद में Vitamin A, B, C, Iron, Calcium और Iodine होता है. गले में दर्द होने पर शहद का सेवन करने से दर्द में राहत मिलती है.

यह भी पढ़ें : शहद खाने के फायदे

गले में दर्द के लिए लहसुन | Garlic Gale Me Dard Ka Ilaj in Hindi

लहसुन का इस्तेमाल खाने में किया जाता है. लहसुन के तड़के से खाने का स्वाद और भी ज्यादा बढ़ जाता है. इसके अलावा बहुत सी दवाइयों के रूप में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है. गले में दर्द होने पर लहसुन चूसने से आराम मिलता है.

यह भी पढ़ें : लहसुन खाने के फायदे

गले के दर्द के लिए निम्बू | Lemon for Sore Throat Treatment in Hindi

1 चम्मच निम्बू के रस को 1 कप पानी में मिलाएं और गरारे करे. इससे गले में आराम पडेगा. इसके अलावा शहतूत का शरबत पीने से गले के दर्द और खुश्की में राहत मिलती है.

ये थे गले का दर्द दूर करने के घरेलू नुस्खे और उपाय जिनकी मदद से आपको गले के दर्द से राहत मिल सकती है. लेकिन अगर घरेलू नुस्खों की मदद से आपको गले में कोई राहत नही पहुंचती है तो डॉक्टर से संपर्क करे.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*