Hastmaithun Ke Fayde | हस्तमैथुन के फायदे, नुकसान और छोड़ने का तरीका

Hastmaithun Ke Fayde Aur Nuksan, Masturbation Benefits and Side Effects in Hindi

Hastmaithun Ke Fayde (हस्तमैथुन के फायदे और नुकसान) – हस्तमैथुन करना प्राकृतिक है. अपनी कामुकता पर काबू पाने का यह सबसे आसान तरीका है. आज भी हस्तमैथुन (मास्टरबेशन) के ऊपर लोग खुल कर बात नहीं करते है. इस विषय पर लोगो को बात करने में शर्म महसूस होती है. हस्थमैथुन सभी लिंग और जाति के लोग करते है और यह सुरक्षित भी है. लेकिन बहुत से लोगो के मन में कुछ सवाल रहते है जैसे – हस्तमैथुन के फायदे क्या है, हस्तमैथुन के नुकसान क्या है, कितना हस्तमैथुन करना फायदेमंद है आदि. आज इस लेख में हम आपको हस्तमैथुन के फायदे और नुकसान के बारे में बताने वाले है.

Hastmaithun Ke Fayde Aur Nuksan, Masturbation Benefits and Side Effects in Hindi

हस्तमैथुन के फायदे | Hastmaithun Ke Fayde in Hindi

अच्छी नींद – हस्तमैथुन के दौरान हॉर्मोन्स के निकल जाने के बाद आप बेफिक्र होकर बिना किसी बेचैनी के सोते हैं.

तनाव – पुरुष और महिला दोनों को हस्तमैथुन की मदद से तनाव को कम करने में मदद मिलती है.

अच्छा महसूस – हस्तमैथुन करने के बाद हल्का और अच्छा महसूस होता है.

मानसिक शांति – हस्तमैथुन करने से मानसिक शांति मिलती है.

हस्तमैथुन के नुकसान | Hastmaithun Ke Nuksan in Hindi

Hastmaithun Side Effects in Hindi वैसे तो हस्तमैथुन करना नेचुरल है, लेकिन बहुत से लोग हस्तमैथुन करना सही नही मानते है. अगर आपको हस्तमैथुन की लत लग जाये तब यह गलत है. हस्तमैथुन की लत लग जाने के कारण आप हर समय सिर्फ हस्तमैथुन करने के बारे में सोचने लगते है और अपनी लाइफ के उद्देश्य से भटकने लगते है. इसलिए हस्तमैथुन को अपने उद्देश्य के बीच में न आने दे. हस्तमैथुन की लत लग जाने के कारण आप अपने परिवार के साथ समय बिताना कम कर देते है, काम या दैनिक गतिविधियां छोड़ देते है.

यह भी पढ़ें : 8 फूड जो बढ़ाते है स्पर्म की गिनती

कितनी बार हस्तमैथुन करना चाहिए | How Often Should You Masturbate in Hindi

Hastmaithun Kitne Din Me Karna Chahiye in Hindi लोग अक्सर ये सोचते है आखिर कितना हस्तमैथुन करना सेहत के लिए फायदेमंद है या फिर कितना हस्तमैथुन करे जिससे शरीर को कोई नुकसान न पहुंचे. जब भी आप ऐसा महसूस करे की आपको हस्तमैथुन करना चाहिए आप तब हस्तमैथुन कर सकते है. वैसे देखा जाए तो हफ्ते में 3 बार हस्तमैथुन करना ठीक है.

क्या मास्टरबेशन नेचुरल है | Is Masterbation Natural in Hindi

हस्तमैथुन एक नेचुरल प्रक्रिया है. इसे प्रजनन क्षमता पर किसी भी तरह का गलत प्रभाव नहीं पड़ता, यहां तक कि जानवरों में बिल्ली, कुत्ते और बंदर भी मैस्टरबेशन करते हैं.

हस्तमैथुन से होने वाली बीमारी | Hastmaithun Se Hone Wali Bimari

आज भी लोगो को हस्तमैथुन के बारे में सही जानकारी नही है. बहुत से लोगो को लगता है हस्तमैथुन करने से कमजोरी आना या अंधापन हो सकता है. ये सब झूठ है. इन सब बातों को अपने दिमाग से निकाल दीजिये.

यह भी पढ़ें : सेक्स पावर बढ़ाने के 11 चमत्कारी घरेलु उपाय

हस्तमैथुन छोड़ने के उपाय | Hastmaithun Se Kaise Bache

जैसा की हमने आपको ऊपर बताया कि हस्तमैथुन करना गलत नहीं है, आपका जब मन करे आप तब हस्तमैथुन कर सकते है. लेकिन अगर ये आपको आपके उद्देश्य और कामों से दूर कर रहा है तो आपको हस्तमैथुन कम कर देना चाहिए. हस्तमैथुन कम करने के लिए आप कुछ टिप्स फॉलो कर सकते है जिनकी मदद से आपको हस्तमैथुन छोड़ने में मदद मिलेगी.

खुद को बिजी रखें – हस्तमैथुन की लत से छुटकारा पाने के लिए आप खुदको बिजी रखने की कोशिश करे. आप अपनी पसंद का कोई भी काम कर सकते है या फिर अपना आफिस का काम जिससे आपका ध्यान हस्तमैथुन की तरफ न जा सके.

अकेले ना रहे – अकेला रहने की वजह से आपका ध्यान हस्थमैथुन की तरफ जाता है और आप खुद को रोक नही पाते है. ऐसे में आप अपने दोस्तों और फैमिली के साथ समय बिताए.

रनिंग पर जाएं – हस्तमैथुन से बचने के लिए आप रनिंग पर जा सकते है या फिर टहलने जा सकते है.

ये थे हस्तमैथुन करने के फायदे और नुकसान (Masturbation Side Effects and Benefits in Hindi) उम्मीद है आपको आपके सभी सवालों का जवाब मिल गया होगा और आपको हस्तमैथुन के ऊपर ये जानकारी पसंद आई होगी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*