MyHealthHindi

Health, Fitness, Relationship, Grooming, Beauty Tips, Lifestyle, Nutrition

Gomutra Ke Fayde, Cow Urine Benefits in Hindi
Benefits

Gomutra Ke Fayde | गोमूत्र से होते है ये 5 अद्भुत फायदे

Gomutra Ke Fayde (गोमूत्र के फायदे) – हिन्दू धर्म में गाय को माँ का दर्जा दिया जाता है. गाय के दूध से लेकर उसके गोबर और मूत्र को पवित्र माना जाता है. लेकिन गौमूत्र का नाम सुनकर बहुत से लोगो की नाक सिकुड़ जाती है, लेकिन गाय का मूत्र इतना लाभकारी है कि इसका उपयोग बहुत सी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए किया जा सकता है. आयुर्वेद में गौमूत्र के इस्तेमाल से दवाइयां भी बनाई जाती है. गाय का मूत्र स्‍वाद में गर्म और कसैला लगता है, जो विष नाशक, जीवाणु नाशक होता है. इसमें फॉस्‍फेट, यूरिक एसिड, नाइट्रोजन, कॉपर, पोटैशियम, यूरिक एसिड, क्‍लोराइड और सोडियम पाया जाता है. इस लेख में हमने गोमूत्र के फायदे के बारे में बताया है.

Gomutra Ke Fayde, Cow Urine Benefits in Hindi

गौमूत्र दिलाये दर्द से राहत | Cow Urine Benefits for Pain in Hindi

गौमूत्र जोड़ों के दर्द से राहत दिलाने में मददगार है. यदि दर्द वाली जगह गौमूत्र से सिकाई की जाए तो दर्द से राहत मिलती है.

यह भी पढ़ें : दूध पीने के 8 फायदे और नुकसान

खून की कमी के लिए गोमूत्र | Gomutra Benefits for Anemia in Hindi

खून की कमी के लिए भी गोमूत्र फायदेमंद है. गौमूत्र, गाय का दूध और त्रिफला एक साथ मिक्स करके लिया जाये तो एनीमिया की कमी दूर होती है.

लिवर के लिए गोमूत्र के फायदे | Benefits of Gomutra for Liver in Hindi

लिवर के लिए भी गोमूत्र का उपयोग फायदेमंद है. गोमूत्र का सेवन करने से जिगर अच्छे से काम करता है. जिससे रक्त अच्छा व शुद्ध बनता है.

तनाव के लिए गोमूत्र के फायदे | Gomutra Ke Fayde for Stress in Hindi

गोमूत्र तनाव दूर करने में मदद करता है. इसके अलावा इसका नियमित सेवन करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और बीमारियों से बचने में मदद मिलती है.

गोमूत्र के फायदे मोटापे के लिए | Benefits of Cow Urine for Obesity in Hindi

मोटापा कम करने के लिये 1 गिलास पानी में 4 बूंद गौमूत्र के साथ 2 चम्‍मच शहद और 1 चम्‍मच नींबू का रस मिला कर रोजाना लेने से फायदा मिलता है.

गौमूत्र कैसे पिए | Gomutra Kaise Piye

  • गोमूत्र का सेवन करने से पहले उसे फिल्टर कर ले.
  • गोमूत्र में आंवला चूर्ण और दूध मिलाकर पिया जा सकता है.
  • गोमूत्र का सेवन बिना कुछ मिलाए किया जा सकता है.

ध्यान देने वाली बातें

  • गर्मियों में इसकी मात्रा कम लेनी चाहिए.
  • आठ साल से कम बच्चों और प्रेग्नेंट महिलाओं को गौमूत्र अर्क वैद्य की सलाह के अनुसार ही दें.
  • गोमूत्र को निश्चित तापमान पर रखा जाना चाहिए.
  • कांच, मिट्टी या स्टील के बर्तन में ही गौमूत्र रखना चाहिए.

गोमूत्र के नुकसान | Gomutra Ke Nuksan

गौमूत्र को ज्यादा समय तक स्टोर करके नहीं रख सकते, क्यूंकि इसमें बैक्टीरिया पनपने का खतरा बढ़ जाता है, जो बॉडी के लिए नुकसानदायक हो सकता है.

1 COMMENTS

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *