Dengue Symptoms And Treatment in Hindi | डेंगू के लक्षण और इलाज

Dengue Symptoms and Treatment

Dengue Symptoms And Treatment in Hindi (डेंगू का इलाज) – डेंगू एक ऐसा वायरस है जो एक मच्छर के काटने से फैलता है. डेंगू में सबसे पहले तेज़ बुखार आता है उसके बाद धीरे-धीरे Platelets कम होने लगती है. जिस मच्छर से डेंगू फैलता है उसका नाम एडीज है. हज़ारों लोग इस बीमारी के कारण अपनी जान से हाथ धो बैठते है.

ये बीमारी हर साल बरसात में होती है. डेंगू होने के कारण शरीर के काम करने की गति धीमी हो जाती है, और हमे थकावट भी महसूस होती है. ज्यादातर डेंगू का मच्छर दिन के समय काटता है और ये साफ़ पानी में पैदा होता है. हम आपको बताने वाले है डेंगू के कारण, डेंगू के लक्षण और डेंगू का इलाज Dengue in Hindi | Dengue Fever Treatment in Hindi

Dengue Symptoms And Treatment

डेंगू के लक्षण तथा इलाज | Dengue Symptoms And Treatment in Hindi

डेंगू एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति को नहीं फैलता. ये सिर्फ मच्चर के काटने से ही फैलता है. जैसा की सबको पता है ये बीमारी कितनी खतरनाक है. इसके चलते मरीज की मृत्यु भी हो सकती है. लेकिन कुछ बातों को ध्यान में रखकर आप खुद को डेंगू की चपेट में आने से बचा सकते है. नीचे बताई गयी बातों को अपनाकर आपको डेंगू से बचने में मदद मिलेगी.

डेंगू के कारण | Dengue Ke Karan in Hindi

Dengue Fever Causes in Hindi जैसा की हमने आपको ऊपर बताया डेंगू एडीज परिवार से जुड़े मच्छर के कारण होता है. और इनमे एडीज एजिप्टी मच्छर को सबसे आम माना जाता है. यह मच्छर किसी व्यक्ति को काटता है तब वायरस उस व्यक्ति के अन्दर चला जाता है. यदि कोई मच्छर डेंगू से संक्रमित व्यक्ति को काटता है तो डेंगू वायरस उस मच्छर में चले जाता है तथा यही मच्छर किसी स्वस्थ व्यक्ति को काट ले तो वह व्यक्ति भी संक्रमित हो जाता है.

डेंगू के लक्षण | Dengue Fever Symptoms in Hindi

Dengue Ke Lakshan डेंगू होने पर हमें कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. इस बीमारी में उल्टी, थकान लगना, तेज़ बुखार आना, सिरदर्द, मांसपेशियों में दर्द होता है. तथा शरीर पर लाल रंग के निशान भी दिख सकते है.

यह भी पढ़ें : जीका वायरस के लक्षण और उपाय

डेंगू का इलाज | Home Remedies for Dengue in Hindi

Dengue Ka Ilaj नीचे हमने आपको डेंगू के इलाज तथा उपचार के नुस्खे बताए है जिनकी मदद से आपको डेंगू से राहत मिलेगी. Treatment of Dengue in Hindi

यह भी पढ़ें : जुकाम तथा गले की खराश के लिए उपचार

गिलोय है डेंगू में फायदेमंद | Giloy for Dengue Fever in Hindi

डेंगू के समय गिलोय काफी काम की चीज़ है इसकी मदद से डेंगू का असर कम किया जा सकता है. गिलोय मेटाबोलिक रेट बढ़ाने में मदद करती है. इसके अलावा ये प्रतिरोधक क्षमता को भी मजबूत बनाती है. सबसे पहले ताज़ा गिलोय का एक तना लगभग 30 ग्राम का लेकर उसे कूट ले और उसमे 3-4 तुलसी की पत्तियाँ डाल ले और उसे एक लीटर पानी में उबाल ले. पानी को तब तक उबालते रहें जब तक ये 200-250 मिली न रह जाए. फिर इस पानी को दो से तीन बार पिए.

आंवला का इस्तेमाल डेंगू में | Gooseberry for Dengue Fever in Hindi

आंवला कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है इसमें विटामिन C काफी ज्यादा मात्रा में होता है. इसके अलावा इसमें आयरन, कैल्शियम, फाइबर तथा फॉस्फोरस जैसे पोषक तत्व भी मौजूद होते है. आँवला हमारे बालों तथा त्वचा के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होता है. इसके अलावा डेंगू में भी आंवला फायदेमंद है. आंवला शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है. ये खून बढ़ाने में भी मदद करता है.

यह भी पढ़ें : आंवला खाने के फायदे

एलोवेरा डेंगू में फायदेमंद | Aloe Vera for Dengue in Hindi

एलो वेरा एक छोटा सा पौधा है जो लगभग हर घर में पाया जाता है. ये हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होता है. डेंगू में भी एलोवेरा का फायदेमंद माना जाता है. एलोवेरा पाचन ठीक करता है. इसका जूस प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है.

डेंगू का उपचार तुलसी की मदद से | Basil Leaves for Dengue Treatment in Hindi

तुलसी की पत्तियां कितनी गुणकारी है ये तो सब लोग जानते है ये हर तरह के वायरल में काम आती है. तुलसी की मदद से हमें सर्दी-खासी, दस्त तथा सांसों की दुर्गन्ध से तो राहत मिलती ही है इसके अलावा डेंगू के मरीज़ को तुलसी की पत्तियां पानी में उबालकर देने से डेंगू से राहत मिलती है.

यह भी पढ़ें : तुलसी के लाभ और गुण

डेंगू में हल्दी के फायदे | Turmeric for Dengue in Hindi

हल्दी का इस्तेमाल सदियों से औषधि के रूप में किया जा रहा है. हल्दी में मौजूद एंटीवायरल गुण डेंगू से बचाने में मददगार है. 1 गिलास गर्म दूध में 1 चम्मच हल्दी को मिलाये तथा जब दूध ठंडा हो जाये तब इसका सेवन करे.

पपीते की पत्तियां प्लेटलेट्स की रिकवरी के लिए | Papaya Leaf for Platelets in Hindi

प्लेटलेट्स की रिकवरी के लिए पपीते की पत्तियों का रस काफी उपयोगी है. इस रस को बनाने के लिए पपीते की ताजी पत्तियां ले और उन्हें अच्छे से धोकर पीस ले. और इसको डेंगू के मरीज़ को खिलाये. इससे काफी जल्दी प्लैटलैट्स की मात्रा बढ़ जायेगी.

डेंगू का इलाज है कीवी फल | Kiwi for Dengue in Hindi

कीवी का फल डेंगू में फायदेमंद होता है. इसमें मौजूद पोषक तत्व थकान तथा कमजोरी को दूर करने में मददगार है. इसके अलावा ये प्लैटलैट्स को बढ़ाने में भी मददगार है. आप रोजाना कीवी के जूस का सेवन भी कर सकते है.

जौं घास डेंगू के उपचार में मददगार | Barley Grass for Dengue Fever in Hindi

जौं घास से डेंगू के उपचार के बारे में शायद ही आपने सुना होगा. जौं की चाय पीने से या जौं घास के रस की मदद से प्लेटलेट बढ़ाने में मदद मिलती है.

यह भी पढ़ें : जौ के फायदे, स्वास्थ्य लाभ और नुकसान

बकरी का दूध डेंगू में फायदेमंद | Goat Milk for Dengue Fever in Hindi

डेंगू के मरीज को बकरी का दूध पीने की सलाह दी जाती है. बकरी के दूध में मौजूद सेलेनियम रक्त प्लेटलेट को बढ़ाने में मददगार है. बकरी के दूध का सेवन आपको डेंगू से राहत दिलाने में मदद करेगा. रोज एक कप बकरी का दूध जरूर पीना चाहिए.

डेंगू फीवर में अमरूद के पत्ते | Guava Leaves for Dengue in Hindi

डेंगू फीवर की वजह से Platelet कम होने लगती है. लेकिन अमरुद के पत्ते Platelet बढ़ाने में मदद कर सकते है. एक मुट्ठी अमरुद के पत्तो को एक गिलास पानी में उबाल ले. अब इस पानी को छानकर इसका सेवन करे.

डेंगू के इलाज में फायदेमंद है मेथी के बीज | Fenugreek Seeds for Dengue in Hindi

मेथी का इस्तेमाल सब्जियों में तो किया जाता ही है इसके अलावा ये हमें कई बीमारियों से बचाने में मदद करती है. इसमें पाये जाने वाले विटामिन इम्युनिटी में सुधार करते है. इसमें बुखार कम वाले गुण बुखार को कम करने में मदद करते है. डेंगू के इलाज के लिए मेथी फायदेमंद है.

नीम के पत्ते डेंगू के लिए | Neem Leaves for Dengue Fever in Hindi

नीम एक प्राकर्तिक औषधि है जो कई बीमारियों से बचाने में मदद करती है. नीम का इस्तेमाल डेंगू जैसी बीमारी में भी फायदेमंद है. नीम के कुछ पत्तों को 1 कप पानी में डालकर उबाल ले. इसके बाद नीम के पानी को छानकर ठंडा होने के लिए छोड़ दे. जब यह पानी थोड़ा गुनगुना हो जाए तो इसमें शहद मिलाकर पिए. रोज 2 बार इसका सेवन करे.

डेंगू में क्या खाए | What to Eat in Dengue in Hindi

डेंगू में स्वस्थ आहार का सेवन करना जरुरी है. तभी डेंगू से बचने में मदद मिल सकती है. डेंगू होने पर पपीता, केला, नारियल पानी तथा संतरे आदि को अपने आहार में शामिल करना फायदेमंद साबित हो सकता है.

यह भी पढ़ें : नारियल तथा इसके पानी के फायदे और नुकसान

डेंगू से बचाव | Dengue Se Kaise Bache | Dengue Prevention in Hindi

  • साफ सफाई का ध्यान रखें, कही भी पानी इकट्ठा न होने दे.
  • कूलर का पानी समय समय पर बदलते रहे, जहां भी पानी जमा हो वहाँ मिटटी का तेल डाल दे ताकि वहाँ पर अंडे विकसित न हो पाए.
  • गमलों में पानी इकठ्ठा न होने दे.
  • घर में कपूर से धुआं करे ताकि मच्छर से बचा जा सके.
  • मच्छरदानी का इस्तेमाल करें.
  • पूरी बाजू वाले कपड़े पहने.
  • मच्छर मारने वाले कॉइल्स और मशीन का इस्तेमाल करे.

इन घरेलू उपचारों की मदद से आपको डेंगू से राहत पाने में मदद मिल सकती है. लेकिन यदि घरेलु उपचार करने के बाद भी आपको कोई आराम नहीं हो रहा है तो ऐसे में बिना देरी किये डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. जरा सी लापरवाही जानलेवा साबित हो सकती है.

ये थे Dengue Symptoms And Treatment in Hindi | Dengue Ke Gharelu Nuskhe जिनकी मदद से डेंगू से राहत मिल सकती है. उम्मीद है आपको Dengue Symptoms And Treatment in Hindi | Dengue Fever Treatment in Hindi के ऊपर ये जानकारी पसंद आई होगी. आप इस लेख को अपने दोस्तों के साथ शेयर करके उनको भी डेंगू के बारे में जानकारी दे सकते है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*