Ararot in Hindi | अरारोट क्या है, कैसे बनता है और इसके फायदे नुकसान

Ararot Ke Fayde Aur Nuksan

Ararot in Hindi (अरारोट के फायदे और नुकसान) – अरारोट स्टार्च से भरा हुआ उत्पाद है. इसका इस्तेमाल कई स्वास्थ्य लाभों के लिए किया जाता है. बहुत से बच्चो के खाद्य पदार्थों में इसका इस्तेमाल किया जाता है, क्योकि इसकी मदद से शरीर में होने वाले दर्द से राहत मिलती है.

अरारोट के बारे में हम में से बहुत से लोग जानते है तो वहीं कुछ लोग ऐसे भी है जिन्हे अरारोट के बारे में जानकारी नहीं है. यदि आपको भी अरारोट के बारे में पूरी जानकारी नहीं है तो ये लेख आपके लिए ही है. आज हम आपको अरारोट क्या है, अरारोट कैसे बनता है, अरारोट के फायदे और नुकसान के बारे में बताने वाले है.

Ararot Ke Fayde Aur Nuksan

अरारोट क्या होता है | What is Arrowroot in Hindi

Ararot Kya Hota Hai अरारोट एक जड़ का पाउडर होता है. इसके पौधे को एरोरुट (Arrowroot) कहते है. इस पौधे को आयुर्वेद में शिशुमूल के नाम से जाना जाता है. अरारोट को अरारूट, विलायती तीखुर जैसे नामों से भी जाना जाता है. अरारोट वजन कम करने, दिल को स्वस्थ रखने और पाचन के लिए लाभकारी है.

यह भी पढ़ें : 8 फूड जो बढ़ाते है स्पर्म की गिनती

अरारोट कैसे बनता है | Ararot Kaise Banta Hai in Hindi

इस पौधे में पाए जाने वाले स्टार्च का इस्तेमाल करने के लिए पहले जड़ो को खोदा जाता है. उसके बाद इसकी छाल को निकालकर धोते है. उसके बाद इस कंद को कूटकर पेस्ट बनाया जाता है. जिसे कपड़े से छानने के बाद सुखाया जाता है. ऐसे अरारोट पाउडर बनाया जाता है.

अरारोट के पोषक तत्व | Nutrients of Arrowroot in Hindi

यह प्रोटीन और कार्बोहायड्रेट से बना होता है. इसमें विटामिन बी कॉम्प्लेक्स, पोटेशियम, कैल्शियम, जिंक तथा मैग्नीशियम आदि जैसे मिनरसल मौजूद होते है.

अरारोट के फायदे पाचन के लिए | Arrowroot Ke Fayde for Digestion in Hindi

अरारोट पाचन तंत्र के लिए बहुत लाभदायक होता है. हमारी पाचन क्रिया को स्वस्थ रखने के लिए फाइबर बहुत जरुरी है. अरारोट में भरपूर मात्रा में फाइबर मौजूद होता है. यह आंतों की सफाई करता है, साथ ही पोषक तत्वों के अवशोषण में भी मदद करता है. नियमित रूप से अरारोट का थोड़ी मात्रा में सेवन करने से कब्ज तथा दस्त आदि जैसी समस्याओं को दूर करने में मदद मिलती है. अरारोट शुरुआती मधुमेह को रोकने में भी मददगार है. यह शरीर में ब्लड शुगर के लेवल को कंट्रोल करने में सहायता करता है.

अरारोट के फायदे वजन कम करने के लिए | Ararot Ke Fayde to Lose Weight in Hindi

अधिक वजनी होना स्वास्थ्य के लिए सही नहीं है. ज्यादा वजन या मोटापे के कारण अनेक बीमारियों के होने की संभावना बनी रहती है. ऐसे में खुद को फिट रखना बहुत जरुरी है. वजन कम करने के लिए अरारोट काफी फायदेमंद है. बाकि खाद्य पदार्थों के मुकाबले इसमें काफी कम मात्रा में कैलोरीज पायी जाती है. इसमें मौजूद फाइबर पाचन को मजबूत करने में सहायक है. साथ ही भूख को भी कंट्रोल करता है.

यह भी पढ़ें : मोटापा कम करने के उपाय

अरारोट के फायदे त्वचा के लिए | Ararot Benefits for Skin in Hindi

आप अपनी त्वचा को सुन्दर बनाने के लिए भी अरारोट का इस्तेमाल कर सकते है. आप अपनी स्किन के हिसाब से फेस पैक में अरारोट का इस्तेमाल कर सकते है. इसकी मदद से त्वचा की मृत कोशिकाएं हट जाती है और नयी कोशिकाओं के विकास में मदद मिलती है.

यह भी पढ़ें : हाथों को गोरा करने के 9 घरेलू नुस्खे व उपाय

प्रतिरक्षा को बढ़ाता है अरारोट | Arrowroot Increases Immunity in Hindi

हम में से बहुत से लोग ऐसे होते है जो सामान्य स्वास्थ्य समस्याओं से ग्रसित रहते है. कमजोर प्रतिरक्षा होने की वजह से ऐसा होता है. अगर आप चाहते है की आपकी प्रतिरक्षा शक्ति मजबूत हो जाये तो आप अरारोट को अपनी डाइट में शामिल कर सकते है. अरारोट में पाए जाने वाले पोषक तत्व थकान तथा कमजोरी से राहत दिलाने में मददगार है. अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए अरारोट का इस्तेमाल जरुर करे.

दिल के लिए अरारोट के फायदे | Arrowroot Benefits for Heart in Hindi

खराब जीवनशैली के कारण दिल की बीमारियों का खतरा बढ़ता ही जा रहा है. ऐसे में दिल को स्वस्थ रखने के लिए सही खान-पान का सेवन करना बहुत जरुरी है. अरारोट में मौजूद पोटेशियम हृदय के लिए बहुत फायदेमंद है. पोटेशियम दिल को स्वस्थ रखने में सहायता करता है. इसके अलावा पोटेशियम रक्त वाहिकाओं और धमनियों में तनाव को कम करने में मदद करता है जिससे रक्तचाप को कम करने में सहायता मिलती है. यह हमारे मस्तिष्क के लिए भी फायदेमंद है.

यह भी पढ़ें : हार्ट अटैक के कारण लक्षण और इससे बचाव के उपाय

एथलीट फुट के लिए करे अरारोट का प्रयोग | Use Arrowroot for Athlete’s Foot in Hindi

फंगल इन्फेक्शन की वजह से एथलीट फुट की समस्या हो सकती है. ऐसे में एथलीट फुट की समस्या से निजात पाने के लिए अरारोट का उपयोग करना एक अच्छा विकल्प हो सकता है. एथलिट फुट से छुटकारा पाने के लिए आप अरारोट पाउडर का इस्तेमाल प्रभावित क्षेत्र में कर सकते है. अरारोट पाउडर पसीने तथा नमी को अवशोषित करने में सक्षम है.

अरारोट की अन्य जानकारी | Other Information of Arrowroot in Hindi

  • अरारूट आसानी से पच जाता है इसीलिए जिन लोगो को पाचन संबंधी समस्या है वो भी इसका इस्तेमाल कर सकते है.
  • पहले के समय में मकड़ी जैसे जहरीले कीड़ों के काटने पर भी इसे लगाया जाता था.
  • अरारूट को अनाज से नहीं बनाया जाता है, इसीलिए इसका सेवन व्रत में किया जा सकता है. लेकिन यह शुद्ध होना चाहिए तब ही इसका सेवन करे.

अरारोट के नुकसान | Ararot Ke Nuksan in Hindi

सीमित मात्रा में किसी भी चीज़ का सेवन करना लाभ पहुंचता है, लेकिन जरुरत से ज्यादा मात्रा में किसी भी चीज़ सेवन करना नुकसान भी पंहुचा सकता है. इसीलिए अरारोट का सेवन कम मात्रा में ही करे तभी यह आपके लिए लाभदायक है वरना ये आपको नुकसान भी पंहुचा सकता है. नीचे हमने अरारोट का सेवन करने से होने वाले नुकसानों के बारे में बताया है.

  • अगर आप दवाओं का सेवन कर रहे है तो अरारोट का सेवन करने से पहले एक बार चिकित्सक से जरूर परामर्श ले.
  • कुछ लोगो में अरारोट का सेवन करने के कारण एलर्जी की समस्या हो सकती है. जिसकी वजह से उन्हें मतली तथा उल्टी की समस्या हो सकती है.

ये थे अरारोट के फायदे और नुकसान (Arrowroot Benefits and Side Effects in Hindi). उम्मीद है आपको ये जानकारी पसंद आई होगी.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*